ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया एवं ऊष्माशोषी अभिक्रिया क्या है?

ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया एवं ऊष्माशोषी अभिक्रिया

Topic

  • ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया क्या है?
  • ऊष्माशोषी अभिक्रिया क्या है?
  • ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया एवं ऊष्माशोषी अभिक्रिया में अंतर 
  • श्वसन को ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया क्यों कहते हैं?

ऊष्माक्षेपी(Endothermic) अभिक्रिया क्या है?

वैसी रासायनिक अभिक्रिया है जिसमें अभिक्रिया के बाद उष्मा अर्थात ऊर्जा का निर्माण होता है, ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया कहलाता है। अर्थात जब अभिक्रिया संपन्न होती है तो प्रतिफल में उष्मा (ऊर्जा) मुक्त होता है। यह उष्मा या ऊर्जा पहले से अभिकारक में उपस्थित नहीं रहता है। 

Example : – CH4 + 2O2 + 2H2O + उष्मा

  • अमोनियम नाइट्रेट और जल का ‘कोल्ड पैक’।
  • बर्फ का पिघलना।
  • जल से वाष्प का बनना।
  • प्रकाश संश्लेषण (Photosynthesis) की प्रक्रिया इत्यादि ।

श्वसन को ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया क्यों कहते हैं?

जब हम लोग भोजन के रूप में रोटी, चावल इत्यादि को ग्रहण करते हैं। तो इसमें कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है। जब भोजन हमारे शरीर में पचता है। तो वह छोटे-छोटे अणुओ में टूटकर ग्लूकोज प्रदान करता है। यह ग्लूकोज हमारे शरीर के कोशिका में उपस्थित अक्सीजन से अभिक्रिया करके हमें ऊर्जा प्रदान करती है। इस पूरी प्रक्रिया में हमारे शरीर को ऊर्जा मिलती है। अर्थात ऊर्जा का निर्माण होता है। इसीलिए श्वसन को ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया कहा जाता है।अतः श्वसन एक ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया का उदाहरण है।

ऊष्माशोषी(Exothermic) अभिक्रिया क्या है?

वैसी रासायनिक अभिक्रियाएं जिसमें अभिक्रिया के बाद उष्मा अर्थात ऊर्जा का शोषण होता है, ऊष्माशोषी रासायनिक अभिक्रिया कहलाता है।अर्थात अभिकारक में उष्मा मौजूद रहता है लेकिन प्रतिफल में ऊष्मा का शोषण हो जाता है।

Example :-

ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया एवं ऊष्माशोषी अभिक्रिया

 

 

ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया एवं ऊष्माशोषी अभिक्रिया में अंतर

हमलोगो ने देखा ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया में उष्मा अर्थात ऊर्जा का निर्माण होता है जबकि ऊष्माशोषी अभिक्रिया उष्मा अर्थात ऊर्जा का शोषण होता है।

ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया

ऊष्माशोषी अभिक्रिया

ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया ऊष्मा मुक्त होती है। ऊष्माशोषी अभिक्रिया अवशोषित होती है।
इसमें ताप में वृद्धि होती है। इसमें ताप में कमी आती है।
ऊष्माक्षेपी भिक्रियाओं में अभिकारकों की ऊर्जा उत्पादों के सापेक्ष अधिक होती है। अभिक्रियाओं में अभिकारकों की ऊर्जा उत्पादों के सापेक्ष कम होती है।
ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया में वातावरण का ताप बढ़ जाता है। ऊष्माशोषी अभिक्रिया में कमी हो जाता है।

 

Read more ⇒

Bihar Biard 10th Science Solution 

विकृतगंधिता किसे कहते हैँ