बाल मनोविज्ञान क्या है? Child psychology kise kahte hain

हमारे "CTET PREPRATION" Whatsapp ग्रुप को अभी Join करें......CLICK HERE

बाल मनोविज्ञान क्या है? Child psychology kise kahte hain| जब कभी भी CTET, D.El.Ed & B.Ed जैसे परीक्षाओं की बात की जाती है तो विद्यार्थियों के दिमाग में आने वाले सबसे बड़ा प्रश्न होता है बाल मनोविज्ञान से आधारित प्रश्न।‌ जी हां, बाल मनोविज्ञान एक ऐसा टॉपिक है जो सारे विद्यार्थियों के दिमाग में हमेशा चारों तरफ घूमती रहती है।आज हमलोग उसी बाल मनोविज्ञान के बारे में विस्तृत रूप से जानने की कोशिश करेंगे। हम लोग जानेंगे कि बाल मनोविज्ञान क्या है? बाल मनोविज्ञान का अर्थ क्या है? बाल मनोविज्ञान की परिभाषा क्या है तथा बाल मनोविज्ञान की उपयोगिता एवं महत्व कौन-कौन से हैं?

बाल मनोविज्ञान के अर्थ

बाल मनोविज्ञान दो शब्दों से मिलकर बना है- बाल तथा मनोविज्ञान। बाल का अर्थ है बालक तथा मनोविज्ञान का अर्थ होता है मनो का विज्ञान जाने की मन का अध्ययन। आता हम कह सकते हैं कि बाल मनोविज्ञान में बालक के मन का अध्ययन किया जाता है।

बाल मनोविज्ञान की परिभाषा

"<yoastmark

बाल मनोविज्ञान मनोविज्ञान की एक ऐसी शाखा है, जिसके अंतर्गत बालकों के उसके व्यवहार, विचार, स्थितियों, उसके समस्याओं तथा उन सभी कारकों का अध्ययन किया जाता है जिसका प्रभाव बालक के व्यवहार एवं विकास पर पड़ता है।

बाल मनोविज्ञान क्या है?

बाल मनोविज्ञान के संदर्भ में मनोवैज्ञानिकों का कथन

क्रो एवं क्रो के अनुसार

बाल मनोविज्ञान एक वैज्ञानिक अध्ययन है, जिसमें बालक के जन्म के पूर्व काल से लेकर उसकी किशोरावस्था तक अध्ययन किया जाता है।

‌ थॉमसन के अनुसार

बाल मनोविज्ञान सभी को एक नई दिशा में संकेत करता है। यदि उसे उचित रूप में समझा जा सके तथा उसका उचित समय पर उचित ढंग से विकास हो सके, तो हर बच्चा एक सफल व्यक्ति बन सकता है।

बाल मनोविज्ञान की उपयोगिता एवं महत्व

  • बाल बाल मनोविज्ञान के द्वारा बालक के स्वभाव एवं विकास को समझा जा सकता है।
  • बाल बाल मनोविज्ञान के द्वारा बालकों को शिक्षित करने की प्रक्रिया सरल हो जाती है।
  • ​बाल बाल मनोविज्ञान बालकों के व्यक्तित्व विकास को समझने में सहायता प्रदान करती हैं।
    ​उचित उचित निर्देशन देने का कार्य करती है।
  • बाल मनोविज्ञान की सहायता से बालकों के व्यवहार के अध्ययन के बाद विद्यालय एवं घर के वातावरण को बच्चों के अनुकूल उपयुक्त बनाने में सहायता मिलती है।
  • बाल मनोविज्ञान के जरिए बालक के व्यक्तित्व का अध्ययन करके उसके भविष्य को बताया जा सकता है तथा आवश्यकता अनुसार उसके भविष्य को बेहतर बनाने हेतु सलाह दिया जा सकता है।
  • बाल मनोविज्ञान बालों को की आदतों एवं व्यवहार में सुधार करने में प्रमुख भूमिका निभाती है।

हमलोगो ने जाना कि बाल मनोविज्ञान का क्या है? बाल मनोविज्ञान की परिभाषा एवं इसकी अर्थ एवं इसकी उपयोगिता एवं महत्व कौन-कौन से हैं?

Read more ⟶

CTET PREPRATION WHATSAPP GROUP Join Now