अति लघु उत्तरीय प्रश्न किसे कहते हैं? For CTET & B.Ed, D.El.Ed

हमारे "CTET PREPRATION" Whatsapp ग्रुप को अभी Join करें......CLICK HERE

Very short answer type questions अति लघु उत्तरीय प्रश्न किसे कहते हैं? आज हम लोग इस लेख के माध्यम से जानेंगे कि अति लघु उत्तरीय प्रश्न क्या होता है? अति लघु उत्तरीय प्रश्न का निर्माण कैसे किया जाता है? तथा अति लघु उत्तरीय प्रश्न की विशेषताएं क्या है? तो चलिए सबसे पहले हम लोग जानते हैं कि अति लघु उत्तरीय प्रश्न क्या है?

अति लघु उत्तरीय प्रश्न किसे कहते हैं?

अति लघु उत्तरीय प्रश्न, प्रश्नों का एक प्रकार है जिसके द्वारा किसी विषय-वस्तु का जब परीक्षा ली जाती है तब उस विषय-वस्तु का निश्चित बिंदु को इस प्रकार के प्रश्नों से जाना जाता है तथा उसकी वस्तुनिष्ठता को चिन्हित किया जाता है।

अति लघु उत्तरीय प्रश्न के लिए उत्तर सीमा एवं निर्धारित अंक

  • इस प्रकार के प्रश्न के अंतर्गत विद्यार्थियों से शब्द, पदबंध अथवा अलंकार तथा वाक्य पूछ कर प्रश्नों के उत्तरों को जाना जाता है।
  • अति लघु उत्तरीय प्रश्न का उत्तर एक शब्द से एक वाक्य में दिया जाता है। लघु उत्तरीय प्रश्न के उत्तर देने में ज्यादा से ज्यादा 1 या 2 मिनट का समय लगता है।
  • इस प्रकार के प्रश्न आधा या एक नंबर का होता है।

अति लघु उत्तरीय प्रश्न की विशेषताएं

अति लघु उत्तरीय प्रश्न से विषय वस्तु के मूल को आसानी से समझा जा सकता है तथा इस प्रकार के प्रश्न अधिक विश्वसनीयता वह वैधता को बनाए रखता है।

अति लघु उत्तरीय प्रश्नों के उदाहरण

रिक्त स्थान पूर्ति प्रकार के प्रश्न

इस प्रकार के प्रश्न में विद्यार्थियों को खाली स्थानों को एक शब्द या एक वाक्य में भरना होता है। इस प्रकार के प्रश्न भाषा ज्ञान में अभिव्यक्ति को जानने में सहायक होता है।

जैसे- मैं कल स्कूल नहीं आऊंगा क्योंकि…………..।अति लघु उत्तरीय प्रश्न किसे कहते हैं?

समानार्थक प्रकार के प्रश्न

किसी अनुच्छेदों में दिए गए विचार, शब्द, वाक्य, समानार्थक व विलोम शब्दों को चुनने के लिए इस प्रकार के प्रश्नों का उपयोग किया जाता है

 मानचित्र पर आधारित प्रश्न

भूगोल में नक्शा कौशल को मापने के लिए इस प्रकार के प्रश्नों का उपयोग किया जाता है।
उदाहरण :- मानचित्र में लालकिला, ताजमहल तथा रेगिस्तान को दर्शाए।

 रूपांतरण प्रकार के प्रश्न

इस प्रकार के प्रश्न का प्रयोग भाषा को जांचने के लिए किया जाता है। इस तरह के प्रश्नों के द्वारा कथन, वाच्य, संश्लेषण व वाक्य रूपांतरण इत्यादि को जांचा जाता है।

Read more

CTET PREPRATION WHATSAPP GROUP Join Now