आज हम लोग इस लेख में पदार्थ में होने वाले भौतिक परिवर्तन के बारे में अध्ययन करेंगे। हम लोग पढ़ेंगे की भौतिक परिवर्तन क्या है, भौतिक के गुण क्या है तथा भौतिक परिवर्तन की परिभाषा क्या है? तो चलिए हम लोग जानते हैं कि भौतिक परिवर्तन किसे कहते हैं?

भौतिक परिवर्तन किसे कहते हैं?

पदार्थों का ऐसा परिवर्तन जिसमें पदार्थ के गुण कुछ समय के लिए बदल जाते हैं परंतु उनकी बनावट और भार में कोई परिवर्तन नहीं होता है उसे भौतिक परिवर्तन कहते हैं।

दूसरे शब्दों में, भौतिक परिवर्तन की परिभाषा 

पदार्थ का वैसा परिवर्तन जिसमें परिवर्तन के बाद पुनः पहले वाले अवस्था में पदार्थों का परिवर्तन किया जा सकता हो इस प्रकार का परिवर्तन भौतिक परिवर्तन कहलाता है।

उदाहरण : जल की अवस्था में परिवर्तन, लोहे का चुंबकीय होना, विद्युत बल्ब का ताप दीप्ति होना इत्यादि।

भौतिक परिवर्तन किसे कहते हैं?

भौतिक परिवर्तन के गुण

  • भौतिक परिवर्तन के फल स्वरुप नया पदार्थ नहीं बनता है।
  • इस प्रकार के परिवर्तन में पदार्थों की रासायनिक प्रकृति नहीं बदलती है अर्थात मूल पदार्थ के विशिष्ट गुणों में परिवर्तन नहीं होता है।
  • भौतिक परिवर्तन अस्थाई होता है। प्रक्रिया तभी तक चलती है जब तक प्रक्रिया का कारण उपस्थित रहता है। कारण के हटने पर प्रक्रिया रुक जाती है।
  • पदार्थ के भौतिक परिवर्तन के बाद पुनः पदार्थ के पहले वाले अवस्था में बदला जा सकता है।
  • भौतिक परिवर्तन के बाद प्राप्त नए पदार्थ को सरल विधियों की सहायता से अपने प्रारंभिक रूप में बदला जा सकता है।
  • पदार्थ के भौतिक परिवर्तन के दौरान प्राय: ताप अथवा दाम में परिवर्तन किया जाता है।

आज हम लोग इस लेख में पदार्थ में होने वाले भौतिक परिवर्तन के बारे में अध्ययन किया। हमलोग पढ़ा कि भौतिक परिवर्तन क्या है, भौतिक के गुण क्या है तथा भौतिक परिवर्तन की परिभाषा क्या है? तो चलिए हम लोग जानते हैं कि भौतिक परिवर्तन किसे कहते हैं?

Read more:-

CTET Whatsapp Group : – Join Now

इसे भी पढ़ें :-