रसायन शास्त्र क्या है? Chemistry Kise Kahte Hain

इस लेख में हम लोग पढ़ेंगे की रसायन शास्त्र किसे कहते हैं, रसायन शास्त्र की परिभाषा क्या है, रसायन शास्त्र के जनक कौन हैं तथा रसायन शास्त्र के शाखाएं कौन-कौन से हैं?

रसायन शास्त्र क्या है? Chemistry Kise Kahte Hain

रसायन शास्त्र का शाब्दिक अर्थ

Chemistry शब्द की उत्पत्ति मिस्र (Egypt) की भाषा के (Chemia) शब्द से हुई है जिसका शाब्दिक अर्थ है होता है – काला रंग।
लगभग 1600 BC मैं मिस्र की कला (Egyptian Art) के लिए chemistry शब्द का उपयोग किया जाता था।

रसायन शास्त्र की परिभाषा

विज्ञान का वह भाग जिसके अंतर्गत पदार्थ के भौतिक एवं रासायनिक गुण, पदार्थ की संरचना, उसके गुणों तथापरिवर्तनों के बारे में अध्ययन किया जाता है रसायन शास्त्र कहलाता है।

सुप्रसिद्ध रसायन शास्त्र एवं नोबेल पुरस्कार विजेता पाॅलिंग के अनुसार :- रसायन शास्त्र पदार्थों की संरचना, उनके गुण-धर्मो तथा उन्हीं क्रियाओं का विज्ञान है, जो उन्हें अन्य पदार्थों में परिवर्तित करता है।

रसायन शास्त्र के जनक लेवोजियर को माना जाता है।

रसायन शास्त्र क्या है? Chemistry Kise Kahte Hain

रसायन शास्त्र का ज्ञान मानव सभ्यता के विकास से ही प्रारंभ माना जाता है। जब सर्वप्रथम आग का खोज हुआ था उसी समय से रसायन शास्त्र का विकास प्रारंभ हुआ।

पी. सी. राय को भारतीय रसायन शास्त्र का जनक कहा जाता है।

रसायन शास्त्र के लिए पहला नोबेल पुरस्कार Nant Hoff को मिला।

रसायन शास्त्र की शाखाएं (branches of chemistry)

भौतिक रसायन (physical chemistry)

रसायन शास्त्र का वा भाग जिसके अंतर्गत रासायनिक पदार्थों के विभिन्न गुणों एवं परिवर्तन से संबंधित नियमों का अध्ययन किया जाता है भौतिक रसायन कहलाता है।

कार्बनिक रसायन (organic chemistry)

रसायन शास्त्र की वह भाग जिसमें हाइड्रोकार्बन तथा उसके व्युत्पन्न यौगिक का अध्ययन किया जाता है कार्बनिक रसायन कहलाता है।

रसायन शास्त्र क्या है? Chemistry Kise Kahte Hain

अकार्बनिक रसायन (inorganic chemistry)

रसायन शास्त्र की वह भाग जिसके अंतर्गत करा बनेगी योगी को को छोड़कर जैसे अन्य सभी ज्ञात तत्व एवं उसके यौगिकों का अध्ययन किया जाता है अकार्बनिक रसायन कहलाता है।

जीव रसायन (biochemistry)

रसायन शास्त्र क्या हुआ भाग जिसके अंतर्गत वनस्पतियों तथा वस्तुओं के शरीर में उपस्थित पदार्थों तथा उसके शरीर में होने वाली अभिक्रिया ओं के बारे में अध्ययन किया जाता है, जीव रसायन कहलाता है।

नाभिकीय रसायन (nuclear chemistry)

रसायन शास्त्र का वह भाग जो परमाण्विक नाभिक में गठित विभिन्न प्रतिक्रियाओं तथा इसके द्वारा होने वाले ऊर्जा परिवर्तन की व्याख्या प्रदान करता है उसे नाभिकीय रसायन कहते हैं।

औषधीय रसायन (medicinal chemistry)

रसायन शास्त्र का वह भाग जिसके अंतर्गत जीवित प्राणियों के जनित रोगों के निदान हेतु उपयोगी औषधि अथवा दबाव के रूप में उपयोगी रसायन पदार्थ की व्याख्या की जाती हो, औषधीय रसायन कहलाता है।

रसायन शास्त्र क्या है? Chemistry Kise Kahte Hain

रसायन शास्त्र का महत्व (importance of chemistry)

  • रसायन शास्त्र का महत्व जीवित प्राणियों के लिए जिंदगी के साथ भी है तथा जिंदगी के बाद भी है।
  • रसायन शास्त्र का सर्वाधिक महत्वपूर्ण उपयोग चिकित्सा अथवा स्वास्थ्य हेतु है जिसमें विभिन्न रोगों का निदान संभव है।
  • इसका एक महत्वपूर्ण उपयोग कृषि तथा खाद्य पदार्थ की निर्माण प्रक्रिया में भी होता है।
  • हमारे पहनावे का कपड़ा जो होता है वह भी रसायन शास्त्र का ही देन है।
  • प्लास्टिक, टाइल्स,गलीचे इत्यादि विभिन्न समाधि जिसका उपयोग आलीशान इमारतों के रूप में होता है रसायन शास्त्र का ही देन है।
  • विभिन्न प्रकार के साबुन, क्रीम, पाउडर, डिटर्जेंट, पेंसिल, कागज, इंक इत्यादि अनेकों बहू योगी समान रसायन शास्त्र का ही देना है।

रसायन शास्त्र क्या है? Chemistry Kise Kahte Hain

Read more:-

CTET Whatsapp Group : – Join Now

इसे भी पढ़ें :-