पर्यावरण अध्ययन शिक्षण की समस्याएं {Problems of Environmental Studies Teaching}

हमारे "CTET PREPRATION" Whatsapp ग्रुप को अभी Join करें......CLICK HERE

CTET EVS Pedagogy Notes: पर्यावरण अध्ययन शिक्षण की समस्याएं कौन-कौन सी है। इन्हीं Topics के बारे में आज हम लोग इस लेख में अध्ययन करेंगे।

पर्यावरण अध्ययन शिक्षण की समस्याएं को जानने से पहले हम लोग यह जानते हैं कि पर्यावरण अध्ययन शिक्षण क्या होता है। 

पर्यावरण शिक्षण क्या है? (What is environmental studies teaching)

हमारे चारों तरफ की हुए वस्तुएं जिनसे हम घिरे हुए होते हैं, जो हमारे दैनिक जीवन को किसी न किसी रूप से प्रभावित करते हैं, उन्हें पर्यावरण कहते हैं तथा उस पर्यावरण के बारे में विस्तृत अध्ययन करना ही पर्यावरण शिक्षण कहलाता है।

यदि आप  CTET या  TET EXAMS की तैयारी कर रहें हैं तो RKRSTUDY.NET पर TET का बेहतरीन NOTES उपलब्ध है NOTES का Link नीचे दिया गया है :-

पर्यावरण अध्ययन शिक्षण में अनेकों समस्याएं आते हैं। उनमें से कुछ प्रमुख समस्याएं निम्नलिखित है:-

वैयक्तिक विभिन्नता individual difference

किसी कक्षा कक्ष में विभिन्न आयु, विभिन्न बुद्धि क्षमता, भिन्न अधिग्रहण क्षमता तथा भिन्न पृष्ठभूमि के छात्र उपस्थित रहते हैं। जिनके सीखने की क्षमता है एक समान नहीं रहती है। जिससे पर्यावरण अध्ययन शिक्षण का कार्य जटिल हो जाता है।

पाठ्यक्रम से जुड़ी समस्याएं (problems related to curriculum

पर्यावरण अध्ययन विषय का पाठ्यक्रम बच्चों के आयु एवं सामान्य बुद्धि क्षमता के अनुरूप होनी चाहिए। पाठ्यक्रम अगर इस प्रकार का नहीं होता है तो पर्यावरण शिक्षण अध्ययन में समस्याएं आने लगती है।

शिक्षण सहायक सामग्री का अभाव

पर्यावरण अध्ययन विषय का शिक्षण मुख्य रूप से तर्क वितर्क एवं प्रयोग पर आधारित होता है। प्रयोग करने का सामग्री शिक्षण सहायक सामग्री के अंतर्गत आते हैं। अगर विद्यालय में शिक्षण सहायक सामग्री का अभाव होता है तो पर्यावरण अध्ययन का शिक्षण बाधित हो जाता है।

प्रशिक्षित शिक्षकों की कमी

प्रशिक्षित शिक्षकों की कमी होना भी पर्यावरण अध्ययन शिक्षण की एक गंभीर समस्या है। प्रशिक्षित शिक्षण की कमी होने से शिक्षण की प्रक्रिया व्यवस्थित रूप से संचालित नहीं हो पाती है।

उचित शिक्षण विधियों का चयन की समस्या

शिक्षकों को शिक्षा न देते समय छात्रों की रूचि, अभिरुचि तथा क्षमता को ध्यान में रखते हुए शिक्षण विधियों का चयन करना चाहिए। उचित शिक्षण विधियों का चयन नहीं होने से भी पर्यावरण अध्ययन शिक्षण प्रभावित होता है।

CTET Preparation Group पारिस्थितिकी तंत्र (Ecosystem) क्या हैCLICK HERE
CTET PREPRATION WHATSAPP GROUP Join Now