संसाधन क्या है?

यदि आप CTET का तैयारी कर रहे हैं तो आज का TOPIC आपके लिए काफी उपयोगी होगा। हम लोग आज संसाधन के बारे में अध्ययन करेंगे। “संसाधन” CTET के SST का TOPIC है जिससे प्रत्येक परीक्षा में 2 से 3 प्रश्न पूछे जाते हैं। इस लेख में हम लोग जानेंगे कि संसाधन क्या है? संसाधन के प्रकार, संसाधन के महत्व क्या है? साथ में हम लोग यह भी जानेंगे कि संसाधन का परिभाषा क्या है? तो चलिए हम लोग जानते हैं कि संसाधन किसे कहते हैं?

संसाधन क्या है?

मनुष्य को जीवन यापन करने के लिए विभिन्न प्रकार की वस्तुओं की जरूरत पड़ती है। मनुष्य अपने परिवेश में उपस्थित वस्तुओं का इस्तेमाल करता है। मनुष्य के द्वारा उपयोग किए जाने वाले सारे वस्तु को संसाधन कहते हैं।

संसाधन की परिभाषा क्या है?

वे सारी वस्तु है जिसका उपयोग मनुष्य अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए करता है उसे संसाधन कहते हैं।

संसाधन का वर्गीकरण

हमने संसाधन को तो जान लिया लेकिन अब सवाल यह उठता है कि संसाधन कितने प्रकार के होते हैं?
हमारे पर्यावरण में दो प्रकार की वस्तुएं पाई जाती है। एक पहुंच तू है जो हमें प्रकृति से प्राप्त होती है तथा दूसरा वह वस्तु है जिसका निर्माण मानव स्वयं करता है। इस प्रकार से वस्तु के आधार पर देखा जाए तो संसाधन भी दो प्रकार के होंगे जो निम्नलिखित है:-

1. प्राकृतिक संसाधन
2. मानव निर्मित संसाधन

प्राकृतिक संसाधन क्या है?

वैसा संसाधन जो हमें प्रकृति से प्राप्त होती है, जिसका निर्माण प्रकृति स्वयं करती है उसे प्राकृतिक संसाधन कहते हैं। जैसे – पानी, कोयला, सौर ऊर्जा, मृदा इत्यादि।

प्राकृतिक संसाधन के अंतर्गत दो प्रकार के संसाधन आते हैं-

1. जैविक संसाधन
2. अजैविक संसाधन

जैविक संसाधन किसे कहते हैं?

वैसा वस्तु या पदार्थ जो जीवित प्राणी या वनस्पति से प्राप्त होता है तथा जिसका उपयोग मानव अपनी जरूरतों की पूरा करने में करता है उसे जैविक संसाधन कहते हैं। जैसे :- दूध, मांस, लकड़ी इत्यादि।

अजैविक संसाधन किसे कहते हैं?

अजैविक संसाधन में मृदा, जल, वायु, खनिज, चट्टान इत्यादि आते हैं।

प्राकृतिक संसाधन को दो भागों में विभाजित किया गया है।

1. नवीकरणीय संसाधन
2. अनवीकरणीय संसाधन

नवीकरणीय संसाधन क्या है?

वैसा संसाधन जिसमें चक्रीय उपयोग की प्रक्रिया पाई जाती है अर्थात इस प्रकार के संसाधन के उपयोग करने के बाद पुनः उपयोग किया जा सकता है उसे नवीकरणीय संसाधन कहते हैं। जैसे:- ऑक्सीजन, जल, सौर ऊर्जा इत्यादि।

अनवीकरणीय संसाधन क्या है?

वैसा संसाधन जिसका उपयोग सिर्फ एक बार ही कर सकते हैं, जिसमें चक्रीय उपयोगी की प्रक्रिया नहीं पाई जाती है उसे अनवीकरणीय संसाधन कहते हैं। जैसे :- कोयला, प्राकृतिक गैस इत्यादि।

मानव निर्मित संसाधन क्या है?

वैसा वस्तु जिसका निर्माण मानव द्वारा आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए किया गया हो, वैशाली वस्तु में मानव निर्मित संसाधन कहलाते हैं। जैसे:- यातायात के साधन, वस्त्र, कलम, किताब इत्यादि।

वस्तु कब संसाधन बन जाता है?

सभी संसाधन एक वस्तु है लेकिन सभी वस्तु संसाधन नहीं है

जब तक कोई वस्तु हमारे लिए व्यर्थ है अर्थात उसका हम उपयोग नहीं करते हैं तब तक वह वस्तु हमारे लिए एक संसाधन नहीं है। जब किसी वस्तु का हम उपयोग करते हैं तब वह हमारे लिए संसाधन बन जाता है।

क्या मानव एक संसाधन है? अगर हां तो कैसे?

जी हां दोस्तों, मानव भी एक संसाधन है। क्योंकि मानव ही अन्य स्रोतों को उपयोगी बनाता है इसीलिए मानव भी एक संसाधन है।

Read More :-

CTET Preparation Group CLICK HERE